पैसे के कारण मकान मालिक से चुदवाया

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम नीलम है और मैं बिहार के एक छोटे से गाँव की रहने वाली हूँ | मेरा फिगर 34 24 36 और रंग गोरा है आंखें काली है और दिखाने में मैं अपनी तारीफ क्या करूँ बस इतना है कि मेरे चाहने वाले बहुत है और गाँव में भी मैं कई लडको के साथ खेत में… समझ गए ना आप | मेरा परिवार गरीब है लेकिन फिर भी पिताजी ने मुझे पढ़ाने के लिए कर्ज़ लिया और मुझे पढने के लिए पटना भेज दिया | मैं जिस कॉलेज में हूँ उसके खुद के कोई भी हॉस्टल नहीं है इसलिए मैं अपनी सहेली के साथ एक किराये के घर में रहती थी | कुछ दिन उसने वो घर छोड़ दिया लेकिन मैंने चार पांच महीनों का किराया नहीं दिया था इसलिए मैं घर नहीं छोड़ पाई |
मेरे मकान मालिक मुझे हर दिन आकर कहा करते थे जल्दी पैसे दे दो वरना कुछ गलत हो जायेगा लेकिन मेरे पास इतने पैसे होते ही नहीं थे की उनको दे सकूँ | इसलिए मैं उनको अक्सर टालती रहती थी कि कुछ दिन बाद दे दूंगी लेकिन दे नहीं पाती थी | मैंने अपने मकान मालिक के बारे में काफ़ी बातें सुनी थी कि वो बहुत दबंग आदमी है और अगर किसी को कुछ कर भी दे तो उनका कोई कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता लेकिन मैं इन सब बातों पर ज्यादा ध्यान नहीं देती थी |
अब मैंने कई जगह पर काम तलाशना शुरू किया कोई काम ढंग का काम नहीं मिला और जो मिल रहा था उसमें मेरा ना तो खर्चा निकलता और नहीं किराया | उस वक़्त मेरे पास पैसे का कोई इंतज़ाम नहीं था और घर से भी नहीं मांग सकती थी इसलिए अब मैं परेशान हो चुकी थी | मुझे अक्सर इसी बात का डर लगता था कि अगर मकान मालिक ने मेरे साथ कुछ कर दिया तो मेरे घर वालों का क्या होगा ? अब मैं तरकीबें सोचना शुरू कर दिया कि कैसे उनका पैसा चुकाऊं ? लेकिन मुझे कोई सीधा रास्ता दिखाई नहीं दे रहा था |
फिर मैंने मकान मालिक के बारे में और पता लगाने की कोशिश की और मुझे बहुत कुछ पता चला | जैसे की बाहर तो वो बहुत दबंग आदमी है लेकिन अपनी बीवी से बहुत डरते है क्योंकि जो भी उनके पास है वो सब उसकी बीवी का है क्योंकि उसका ससुर बहुत अमीर है और एक और ख़ास बात पता चली कि वो बहुत ही अईयाश किस्म का इंसान है | लड़कियां और औरतों के साथ रातें गुजारना उसका शौक है | जब ये बातें मुझे पता चली मेरे मन में एक प्लान आया कि क्यों ना मैं इससे चुदवा लूँ और चुपके से हमारा वीडियो बना लूँ जिससे मैं इसको ब्लैकमेल कर सकूँ और जब तक चाहे यहाँ रह सकूँ |
अब मैंने सारे इंतज़ाम करना शुरू कर दिए और कमरे में कैमरा लगाने के लिए जगह ढूंढने लगी जहाँ कैमरे से सब कुछ दिख भी जाये और कैमरा दिखे भी ना | मैंने एक जगह कैमरा लगा दिया और उसके आने का इंतज़ार करने लगी | वैसे तो वो रोज़ आता था लेकिन पता नहीं क्यों ना तो वो उस दिन आया और नहीं अगले दिन | मुझे लगा कहाँ चला गया ये गांडू लेकिन आएगा तो जाएगा कहाँ ? फिर उसी दिन शाम को वो आया और कहने लगा तुम्हें कोई प्रॉब्लम है क्या जो पैसे नहीं दे पा रही हो ? मुझे बताओ क्या प्रॉब्लम है और अगर कोई प्रॉब्लम नहीं है तो पैसे जल्दी दो फिर | मैं बिस्तर पर बैठी हुई थी और वो मेरे सामने खड़े थे तभी मैं उठी और बड़ी नज़ाकत से चलती हुई उसकी तरफ गई और उसके सीने पर हाँथ रखकर कहा अभी मैं पैसे नहीं दे सकती और कुछ चाहिए तो ले लो |
उसने मेरा हाँथ पकड़ा और अपने ऊपर से हटा दिया और कहा मैं कुछ नहीं लूँगा तुम पैसे का इंतज़ाम करो और जल्दी से दो मुझे और इतना बोलकर चला गया | उसने ऐसा क्यों किया ये मैं समझ नहीं पा रही थी | अब मैंने सोचा कि जब अगली बार आएगा और ज्यादा वैसे इशारे करुँगी | वो अगले फिर नहीं और उसके अगले दिन जब आया तो मैं पूरी तैयारी से बैठी थी लेकिन वो मेरे कमरे में नहीं आया दूसरों के कमरे में चला गया | तब तक मैं सोचने लगी कि और कैसे रिझाया जाए तो मैंने अपना ब्रा उतार दिया और मेरे दूध तो बड़े है ही और मैं दुपट्टा भी नहीं डाला था इसलिए मेरे दूध की लाइन साफ़ दिख रही थी |
फिर वो मेरे कमरे में आये और कहा कुछ इंतज़ाम हुआ तो मैं उनके सामने थोडा सा झुक गई और कहा पैसे का तो नहीं हुआ और कुछ पेश करूँ क्या ? तो उन्होंने ने मेरे दूध की ओर बड़ी हैरानी से देखा और फिर मुझसे कहा हाँ कर दो | तो मैं खड़ी हुई और उनके पास गई और उनको छूते हुए पीछे जाके दरवाज़ा बंद कर दिया | वो कुछ नहीं बोल रहे थे और मैंने जाके उनको पीछे से पकड़ लिया और कहा क्या चाहिए किराया या मैं ? तो उन्होंने ने कहा सिर्फ तुम | तो मैंने उनको छोड़ा और आगे जाके बिस्तर पर बैठ गई और कहा फिर मेरा किराया ? तो उन्होंने कहा सब माफ़ | फिर मैंने अपना कुर्ता उतारा और अपने दूध दबाने लगी और वो वहीँ खड़े होकर देखने लगे |
मेरे दूध बड़े थे और मैं बैठकर दबा रही थी और खुद ही अपने दूध चाट रही थी और वो वहीँ खड़े होकर देख रहे थे | तो मैंने कहा बस खड़े होकर देखोगे ही या कुछ करने का इरादा है या फिर किराया नहीं भुला जा रहा | तो वो वहीँ खड़े होकर अपना लंड दबाने लगे और मैं अभी भी बैठे हुए अपने दूध ही दबाये जा रही थी | फिर मैंने अपने दूध पर से हाँथ हटाये और पीछे रखके बैठ गई | तो वो अपना लंड दबाते हुए मेरे पास आये और मेरे दूध की ओर धीरे धीरे हाँथ बढ़ने लगे | तो मैंने उनका हाँथ पकड़ा और अपने दूध पर रखवा लिया और उन्होंने मेरे दूध दबाना शुरू कर दिया | पहले पहले तो वो धीरे धीरे ही मेरे दूध दबा रहे थे लेकिन थोड़ी देर बाद तो ऐसा लग रहा था जैसे की आज तो निचोड़ ही डालेंगे |
फिर मैंने उनके पेंट के ऊपर से लंड दबाना शुरू किया और वो मेरे दूध दबाते रहे | फिर मैंने उनकी पेंट खोल दी और चड्डी भी नीचे कर दी | उनका लंड खड़ा था लेकिन एकदम काला था और बड़ा भी | मैंने इतने बड़े लंड से कभी चुदाई नहीं की थी और ये देखकर मेरे मुंह में पानी आ गया और निप्पल कड़े होने लगे | फिर मैंने उनका लंड चाटना शुरू किया और चाटते चाटते चूसना शुरू कर दिया | मैं उनका लंड बड़े मज़े से चूस रही थी तभी उनका मुट्ठ निकल पड़ा और मेरे मुंह में गिर गया | मैंने भी सारा मुट्ठ पी लिया और उनका लंड चूसती रही और उनका लंड झड़ने के बाद भी कड़ा था | फिर उन्होंने ने मुझे उठाया और खड़ा करके मेरे दूध चूसने लगे | उनका होंसला बढाने के लिए मैं ऊम्म्म्म उम्म्मम्म उम्म्म्म इस्स्स्स इस्सस की आवाजें निकालने लगी | फिर दूध चूसते हुए उन्होंने मेरे पेट पे हाँथ फिराते हुए मेरे सलवार का नाडा खोल दिया और सलवार नीचे कर दी |
फिर उन्होंने ने मुझे बिस्तर पर बैठाया और मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत पर उंगलियाँ फिराने लगे | मुझे चूत में गुदगुदी हो रही थी और अन्दर से बहुत अच्छा लग रहा था | फिर उन्होंने मेरी पैंटी उतार दी और मेरी चूत में ऊँगली करने लगे | फिर उन्होंने मेरी चूत चाटना शुरू कर दिया और मैं आंखें बंद करके मज़े लेने लगी | तभी मुझे याद आया मैं कैमरा चालू करना भूल गई थी लेकिन एक चीज़ अच्छी थी कि मैं कैमरा अपने मोबाइल से भी चालू कर सकती थी और मोबाइल मेरे पास ही रखा था बिस्तर पर तो मैंने जल्दी से मोबाइल उठाया और कैमरा चालू कर दिया | फिर उन्होंने मेरी चूत चाटी और मेरे सामने खड़े हो गए |
वो थोडा सा झुके और मेरी चूत पर लंड रख दिया | जैसे ही उनके लड़ ने मेरी चूत को छुआ मेरे अन्दर एक बिजली सी दौड़ गई | फिर वो अपना लंड पकड़ के मेरी चूत पर घिसने लगे और मैं आह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह करने लगी | फिर उन्होंने मेरी चूत में अपना लंड दाल दिया और मुझे चोदने लगे | मैंने पहली बार इतना बड़ा लंड अपनी चूत में लिया था इसलिए मेरी तो जान निकली जा रही थी | फिर उन्होंने थोड़ी देर ऐसे ही चोदा और फिर मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से मेरी चूत में लंड डाल के चोदने लगे और मैं आअह्ह्ह्ह आआआआअ ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्हूऊह्ह्ह्ह आह्ह्ह्हह्ह करती रही | फिर उन्होंने थोड़ी देर बाद अपना लंड बाहर निकाला और मेरे मुंह पर अपना मुट्ठ झडा दिया और कपडे पहन कर चले गए | फिर मैंने वीडियो भी चेक किया अच्छा बना था लेकिन उसके बाद उन्होंने कभी मुझसे किराया नहीं माँगा लेकिन कभी आके मुझे चोद लेते थे |

Antarvasna & Free sex Kahani padhiye sirf Indiansexstories2 par. Indian sex videos aur Desi Masala videos ka mazaa lijiye Hindi Porn se bhare website par.