दोस्त की महबूबा को मस्त किया

दोस्त की महबूबा को मस्त किया

नमस्कार दोस्तों कैसे हो आप लोग | मैं आशा करता हूँ की आप सभी लोग ठीक-ठाक होगे और रोज अपना कीमती वक़्त निकाल कर सेक्सी कहानियां पढ़ते होंगे | दोस्तों मैं आज आप लोगो को एक नयी कहानी बताऊंगा जिसमे मैंने अपने दोस्त की महबूबा को कैसे चोद के मस्त किया उससे पहले आप लोग थोडा मेरे बारे में जान लीजिये |दोस्तों मेरा नाम राहुल है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ | मेरा परिवार एक छोटा परिवार है जिसमे मेरे मम्मी-पापा और मेवर एक छोटा भाई रहते हैं | पापा मेरे बैंक के फील्ड ऑफिसर हैं और मम्मी अपनी गारमेंट्स की दुकान पर बैठती हैं | मैं और छोटा भाई एक ही कॉलेज में पढ़ते है | मैं अपने छोटे भाई को अपने साथ ही ले जाता हूँ बाइक पर बैठाल कर | वो अभी छोटा है और 6 क्लास में पढता है |तो चलिए दोस्तों मैं अपनी ज्यादा बकवास न करते हुए सीधा आप लोगो को कहानी का रुख करवाता हूँ | जिससे आप लोगो को यह न लगे की मैं कुछ ज्यादा ही ज्ञान चोद रहा हूँ अपने बारे में |
तो मेरे प्रिय भाइयों और बहनों तथा मेरे लडुर दोस्तों ये बात उस समय की है जब मैं और मेरे दोस्त रवि एक साथ ही अपनी-अपनी बाइक पर कॉलेज जाते थे जाते थे | वो अपनी छोटी बहन को अपनी बाइक पर बैठाल कर ले जाता था और मैं अपने छोटे भाई को बैठाल कर | मेरे भाई और उसकी बहन का स्कूल रास्ते में ही पड़ता था हम लोग उन्हें छोड़कर अपने कॉलेज चले जाते थे | दोस्तों रवि मेरा बचपन का दोस्त था | वो मेरे ग्फ्हर के पड़ोस में ही रहता था | हम लोगो का और हम लोगो के घर वालो का एक दुसरे के घर पर आना जाना था | हम लोगो का हिसाब एक परिवार जैसा था | हम लोग अपने कॉलेज के सुपरस्टार थे | कॉलेज में हम लोगो का हिसाब सबसे अच्छा था | हम लोग सबसे हस कर बोलते थे और सबकी हेल्प कर दिया करते थे | हम लोगो के कुछ दोस्त थे जो की कॉलेज के हॉस्टल में ही रहते थे | वो सेल थोड़े कमीने थे वो हम लोगो ससे शराब मंगवाके खूब पीते थे | वो साले कमीने थे पर दिल कल्ले अच्छे थे इसीलिए मेरी और रवि की उनसे दोस्ती बनी थी | मैं और रवि अपने कॉलेज में एक ही साथ रहते थे और जब छुट्टी होती थी तब मैं और रवि अपने-अपने भाई -बहन को उनके कॉलेज से ले के घर आ जाते थे और फिर शाम को बाथ लेके अपनी कोचिंग के लिए निकलते थे |एक दिन मैं और रवि तैयार होकर अपने घर से निकले | हम लोगो ने अपने भाई-बहन को उनके स्कूल में छोड़ा और अपने कॉलेज चले गये | रवि ने कॉलेज में एक बहुत सेक्सी माल सेट कर रख था और वो उसका इंतजार कर रही थी | हम लोग कॉलेज पहुंचे बाइक पार्किंग में खड़ी की और वहां से निकल ही रहे थे | तभी एक लड़का रवि को बोलता है की तुम्हारा कॉलेज की कैंटीन मैं कोई वेट कर रहा है | हम दोनों कैंटीन में पहुंचे और देखा की रवि की गर्लफ्रेंड उसका बैठी वेट कर रही थी | रवि जाके अपनी गर्लफ्रेंड के पास बैठ गया उसने मुझे भी बुलाया पर मैं ज्यादा लडकियो से बोलना पसंद नही करता था | मेरे दोस्त भी कैंटीन में बैठे थे मैं जाके उनके पास बैठ गया जाके | उन लोगो की बातो को मेरे दोस्त नोटिस कर रहे थे | उसकी गर्लफ्रेंड उसको गुस्से से कुछ कह रही थी | उन लोगो ने थोड़ी देर तक बात की फिर उसकी गर्लफ्रेंड वहां से उठकर चली गयी | मेरा दोस्त मेरे पास आया मैंने उससे पूंछा की क्या बात है कोई प्रॉब्लम है क्या | उसने मुझे बताया की कुछ नही यार कल इसका बर्थडे है और साली मुझसे आईफोन की डिमांड कर रही है मैं कहाँ से देदु भाई जरा मुझे बता | दोस्तों रवि थोडा बिलो फॅमिली से बिलोंग करता था | उसको सिर्फ उसके पापा उसके खर्चे के ही रूपये देते थे |अगले दिन हम लोग अपने भाई-बहनों को छोडके अपने कॉलेज पहुंचे | मेरा दोस्त रवि उसके पास गया और उससे बात करनी चाही पर वो ज्यादा इसको लिफ्ट नही दे रही थी और यहाँ तक की उसने रवि को अपने बर्थडे पर भी नही बुलाया था | मैं अपने दोस्त को दूर से खड़ा होके देख रहा था की वो उसे मन रहा था और वो अपने दोस्तों के साथ बाते किये जा रही थी | मैं रवि के पास गया मैंने उसका हाँथ पकड़ा और वहां से लेके चला आया | मैं उसे लेके कॉलेज की कैंटीन में गया और उसे समझाने लगा की भाई वो तेरे लायक नही है | उसको सिर्फ पैसा दिखता है , वो तेरे प्यार करने वाली नही है भूल जा उसे | मैंने अपने दोस्त को कैसे न कैसे समझाया | उसने उससे बात करना छोड़ दिया था पर उसने मुझसे कहा की भाई मुझे इसे इसकी औकात दिखानी है | भाई तु इसे सेट कर अब फिर साली को बताता हूँ की रुपया ही सब कुछ नही होता है |मेरा कोई ऐसा करने का इरादा नही था पर मैं अपने दोस्त की बात को मना नही नही कर सकता था | अब मैं उसके पीछे लग गया | मैंने उसको एक दिन कैंटीन में बुलाया मैंने और मेरे दोस्त ने कैसे भी करके उसको आईफोन दिया | अब मेरा दोस्त पीछे बैठकर खली देख रहा था | मैं उससे थोड़े दिन तक बाते की फिर मैंने उसको पूरी तरह से अपने बस में कर लिया था | अब मैं न चाहते हुए उसके साथ में बैठता था और उससे बाते भी करता था | एक दिन उसने मुझे क्लब चलने को बोला की रात को क्लब चलेंगे मैंने भी उसको हाँ कर दिया और कहा की शाम को मिलता है | मैं अपने दोस्त के पास आया और बोला की भाई क्लब चलने को बोल रही है बता क्या किया जाए | उसने मुझे पूंछा की भाई तूने क्या कहा | मैंने उससे हाँ कर दिया था | मेरा दोस्त खुस हुआ और बोला की भाई ठीक किया तूने यही एक सही मौका है उससे बदला लेने का | उसने कहा की जब तु जाना तब मैं तेरे पीछे-पीछे ही रहूँगा तु टेंशन नही लेना तुझे इसकी आज चूत की गर्मी और इसकी औकात दोनों ही दिखानी है | हम लोगो ने अपना कॉलेज किया और कॉलेज से निकल लिए थे | हम लोगो ने अपने भाई-बहन को उनके स्कूल से लिया और सीधा घर आ गये | खाना खाया और जब शाम हुयी तब मैं और रवि तैयार होकर अपने-अपने घर ससे निकल लिए थे | रवि अपनी बाइक मेरे पीछे रख रखी थी | मैंने उसको लिया और एक अच्छे से क्लब में पहुँच गया | वहां हम लोगो ने पहले तो बार पी और फिर बाद में मैंने उसकी बियर में वाइन मिला दिया | उसने कम से कम 3-4 बार की कैन पी और जब उसे थोडा सुरूर आया तब वो मुझे लेके डांस करने चली गयी | वो मेरे से चिपक-चिपक कर डांस कर रही थी | मैंने थोड़ी देर तक उसके साथ डांस किया फिर वो जब ज्यादा ही नशे में हो गयी तब मैं उसे लेके क्लब से बाहर आ गया | रवि ने एक होटल में एक कमरा बुक कर रखा था मैं उसे लेके वहीँ चला गया | मैंने उसको बेड पर लिटा दिया और उसके सारे कपडे उतार दिए | और अपने भी कपडे उतार कर बेड पर लेट गया और उसके बूब्स दाब रहा था और उसकी चूत में भी अपनी उंगली अन्दर बाहर कर रहा था | वो थोड़े-थोड़े होश में थी और बेड पर पड़ी मचल रही थी | ये सब काण्ड मेरा दोस्त रवि छिपकर कैमरे में कैद कर रहा था | मैंने थोड़ी देर तक उसके बूब्स और उसकी चूत में उंगली की और फिर मैंने उसके दोनों पैरों को उठा कर उसकी छाती में लगा दिया और अपना लंड डाल उसकी चूत में डाल कर चोदना शुरू कर दिया था | थोड़ी देर तक मैंने उसकी चूत में अपने लंड से आराम-आराम धक्के दिए जिसमे वो खली बेड पर पड़ी मचल रही थी और जब मैं तेज-तेज ढकी देने लगा तब वो अपने मुह से आह अहह अहह अहह अहह अह अहः हहह आहा आहा हा अह अहः अहह अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह अहह औंह उन्ह उन्ह उह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह इह्ह इह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह ओह्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह उन्ह आह की सिस्कारिया निकालने लगी थी | थोड़ी देर तक मैंने उसकी चूत में धक्के मारे और फिर में उसकी चूत में ही झड गया था | फिर मैं उसके पर से हट गया और फिर मेरा दोस्त रवि ने भी उसकी चूत को बहुत ही गंदी तरह से चोदा | जब तक वो उसकी चूत मार रहा था तब तक मैं अपने कपडे पहन लिए थे | जब वो झड गया तब हम दोनों ने अपना दिया हुआ आईफोन उसके बेग से निकाल लिया और उसको वहीँ होटल में छोड़ कर चले आये थे |
तो दोस्तो थी मेरी कहानी जो की मेरे जीवन की एकदम सच्ची घटना है | आशा करता हूँ की आप लोगो को पसंद आएगी |

Antarvasna & Free sex Kahani padhiye sirf Indiansexstories2 par. Indian sex videos aur Desi Masala videos ka mazaa lijiye Hindi Porn se bhare website par.